Places to Visit in Jaipur

#Jaipur
#Festivals of Jaipur
#Places to Visit in Jaipur
#Food of Jaipur
#Best Time to Visit in Jaipur
#How to Reach Jaipur
#Local transport in Jaipur
#Hotels in Jaipur
Jaipur is a vibrant confluence of old and new. Also called the Pink City, the capital of the royal state of Rajasthan, Jaipur was ruled by Rajput states for many centuries and developed into a planned city in the 17th century AD. Along with Delhi and Agra, Jaipur forms the Golden Triangle, one of the most famous tourist circuits in the country.
Due to the old city being surrounded by walls and gates, decorated with pictures on the backdrop of beautiful pink color Jaipur, the Pink City successfully manages to retain its old-world charm. Home to some UNESCO World Heritage Sites, including Amer Fort and Jantar Mantar, Jaipur, is home to many magnificent forts, palaces, temples and museums.
Jaipur is full of bustling local markets where you can shop for local handicrafts and trinkets to your heart's content. Popular markets in the city include Bapu Bazaar, Tripolia Bazaar and Johri Bazaar. Jaipur is also known for its local cuisine and the most famous dishes include ghevar, onion kachori and dal baati churma.

One of the largest cities in India, Jaipur is also home to all the modern facilities along with some of the most exotic hotels and resorts in the world. The city boasts of an international airport and is very well connected by rail and road. Metro, local buses, shared tuk-tuk, auto-rickshaws and taxi aggregator apps including Uber and Ola solve traffic problems in the city quite comfortably. It is quite interesting to see that highly urbanized pockets and shopping areas have carelessly grown next to forts and palaces.
Majestic buildings, tales of valor battles, magnificent forts and palaces, and multifaceted character, Jaipur has long been one of the most spectacular cultural jewels in the history of the Indian subcontinent. With friendly people known for its hospitality, Jaipur offers many options for travelers.

The nightlife in Jaipur is very good. Jaipur is famous for its heritage culture and a variety of theme restaurants, cafes and pubs.

# Festivals of Jaipur

Famously called the Pink City, one of the reasons to attract millions of tourists every year is the vibrant heritage culture of Jaipur. Jaipur is famous for its vibrant people who make the city come alive by celebrating many fairs and festivals. Rajasthan has a wide variety of folk entertainment, customs and costumes, which vary from region to region, which holds true to the maximum extent of unity in diversity. In Jaipur, the capital of Rajasthan, people celebrate with great joy by keeping centuries old traditions alive as festivals.

The festival is the best way to foster relations between people coming from different regions, religions, castes, and creeds in Jaipur. Some of the famous festivals celebrated with lively festivals in Jaipur are Teej, Diwali, Gangaur, Kite Festival, Elephant Festival, Camel Festival, etc. Jaipur is one of the best festivals to be filled with interesting ceremonies, rituals and awe-inspiring performances. Activities to do in Jaipur Rajasthan is home to majestic forts and palaces that host the most spectacular festivals with cultural ceremonies, cuisines and many entertaining performances.

The celebration of festivals in Jaipur has given a boost to tourism in the state as most people come here to enjoy the joyful and joyous events and forget their worries. These Mangalakari events have made Rajasthan traditions and customs famous on the world map. Over the years, these festivals have taken the form of grand celebrations that have become the most interesting and interesting thing for tourists. The magnificent festivals and places of Jaipur should definitely be on your bucket list if it is not there yet.

Famous festivals of Jaipur :

1.Elephant Festival
2.Teej Festival
3.Kite Festival
4.Jaipur Literature Festival
5.Gangaur Festival
6.Jaipur International Film Festival
7.Kajli Teej Festival
8.Jaipur Dussera Festival
9.Donkey Festival
10.Sitla Mata Fair

# Places to visit in Jaipur

1. Hawa Mahal: Hawa Mahal is the most famous structure of Jaipur, and hence tourists visit here throughout the day. While Hawa Mahal remains closed at night, experiencing it in the evening is a great way to enjoy its beauty.


2. Nahargarh Fort: In Jaipur, if you really want to enjoy the night view, I strongly recommend the night view of Nahargarh Fort, which is very nice and eye catching. You can enjoy a meal at Cafe Pado by RTDC at Nahargarh Fort.

3. Amber Fort: Located at a distance of 11 km from Jaipur, Amber Fort is a fort built with great artistic taste. Spread on a hilltop forming a beautiful reflection in Martha Lake, it is known as Amer Fort.

4. Jantar Mantar Jaipur: Jantar Mantar in Jaipur is the largest stone astronomical observatory in the world. It is located next to the City Palace of Jaipur in Rajasthan. Built during the period between 1727 and 1733, Jantar Mantar is still running.

Status and it stands as a witness about the wisdom of the bygone era

5. Chhoki Dhani Jaipur: Chokhi Dhani is a luxury heritage synonymous with Rajasthani village culture. It is located on the outskirts of the city on Tonk Road. The concept of village is to give you a tangible feeling of rural Rajasthan. It is a true depiction of traditional Rajasthan with ancient artifacts, handicrafts, paintings, folktales and sculptures. The village has innumerable entertainment options - folk dance, singing, camel riding, puppet shows, fortune-telling, acrobatics, prophetic parrots, magic shows, horse riding, boating etc.

6. Albert Hall Museum: Albert Hall Museum is one of the oldest museums in Rajasthan. It has a rich collection of various types of objects such as paintings, carpets, ivory, stones, metal sculptures, colorful crystal works etc.

7. Galtaji Temple: Located about 20 km from Jaipur, this temple is beautifully situated amidst trees and hills. One of the jewels of Jaipur, the temple complex has natural freshwater springs and 7 sacred 'kundas' or water tanks.

8. Jaigarh Fort: Jaigarh Fort is a grand structure situated on top of the 'Chila Ka Tila' hills, designed by a talented architect named Vidyadhar. The fort reflects the city's rich past and is named after the ruler who built it, Sawai Jai Singh II.

9. Jal Mahal: Jal Mahal is making a very spectacular spectacle over the Man Sagar Lake. To walk along the shore of the lake as the twinkling light inside the palace at night is reflected on the shimmering water, it is a romantic experience.

10. Birla Temple: Situated on a high plain at the base of Moti Dungri hill in Rajasthan, the temple is also known as Lakshmi Narayana Temple as the temple is dedicated to Lord Vishnu (Narayana), the patron and his consort Lakshmi, of wealth. Goddess.

11. Moti Dungri Temple: Moti Dungari Temple is built on a hill above the famous Birla Temple. It is primarily a Ganesh temple and was built for the safety of the city. The temple is surrounded by the beautiful Moti Dungari palace, which is an imitation of a Scottish palace.

#More Places to Visit in Jaipur

 Abhaneri Stepwell,Panna Meena Ka Kund, Ram Niwas Garden,Govind Ji Temple,World Trade Park Jaipur,Raj Mandir

Cinema,Anokhi Museum of Hand Printing,Chand Baori,Masala Chowk,Akshardham Temple, Jaipur,Chandpole,Johari

Bazaar,Amrapali Museum,Central Park Jaipur,Rambagh Palace,Kanak Vrindavan Garden,Sargasuli Tower
,Khole Ke Hanuman Ji Temple,Digamber Jain Mandir Sanghiji,Sisodia Rani Garden,Garh Ganesh Temple,Elefantastic , Jawahar Circle, arauli, Bhandarej, Samode Palace, Hari Mahal Palace,Rajmahal Palace,Narain Niwas Palace,Shahpura  Haveli,Sunshine Resort and Water Park,Appu Ghar, Jaipur,Sunrise Naturopathy Health Resort,Sunrise Dream World, Wonderland  Amusement Park,Angel Resort And Amusement Park

Best Places To Visit in  Jaipur
Jaipur is affectionately referred to as the Pink City because of the pinkish color of its Old City. The city, which is surrounded by rugged hills and besieged walls, is full of fascinating royal heritage and evocative well-preserved buildings. As well as being Rajasthan's capital, Jaipur is part of India's famous Golden Triangle Tourist Circuit. This makes it one of the busiest and most iconic cities in the state. In recent years, Jaipur has evolved to become quite hip with lots of cool cafes, shops, and artist spaces opening up. Plan your trip there with this Jaipur information and city guide.
Take an Off-Beat Tour of Jaipur
Fancy zipping around Jaipur on an electric Segway? Or, going sightseeing in a classic restored Ambassador car, or custom-designed e-rickshaw driven by an enterprising lady from a low-income household? Perhaps you're the sporty type and would prefer to explore the city on a cycling tour? There are all kinds of memorable off-beat tours in Jaipur. They cover attractions such as the Old City, markets, food, and Jaipur by night.

Join an Old City Heritage Walk
Delve into Jaipur's Old City beyond its famous monuments on one of the early morning or evening immersive heritage walking tours conducted by Vedic Walks. Depending on which tour you choose, you'll get to visit communities of artisans such as bangle-makers and metal workers, gemstone workshops, ancient temples, a traditional Ayurvedic hospital, and old stables converted into a market. The tours depart at 9 a.m. and 4 p.m., and run for about two and a half hours. Another option is this insightful Temples and Havelis Walking Tour conducted by Virasat Experiences. It uncovers some of the Old City's lesser known-architectural wonders and traditions of local communities.

Have an Encounter with Royalty
Maharaja Sawai Jai Singh II built the City Palace as part of his new capital in Jaipur. It was completed in 1732 and has an expansive complex of courtyards. The royal family still lives there, in the graceful Chandra Mahal. Various parts of the palace are open to the public according to the type of ticket purchased. Standard City Palace composite tickets cost 300 rupees for Indians and 700 rupees for foreigners. These provide access to palace courtyards, galleries, Jaigarh fort, and the royal cenotaphs. A highlight is the palace's Pritam Niwas Chowk with its colorful painted doorways representing the different seasons. Other attractions include displays of royal costumes, old Indian weapons, paintings and photographs. Special tickets provide access (with a guide) to the royal family's private quarters, and start from 1,500 rupees for Indians and 2,000 rupees for foreigners.
The City Palace is situated in the Old City and is open daily from 9.30 a.m. to 5.30 p.m. It reopens from 7 p.m. to 10 p.m. in the evenings for a sound and light show, plus night viewing. Tickets for this cost 500 rupees for Indians and 1,000 rupees for foreigners. For an extra special experience, have dinner at the City Palace's Baradari restaurant while you're there.

Go Behind the Iconic Wind Palace
The intricate facade of the Hawa Mahal (Wind Palace) is possibly Jaipur's most photographed building. Maharaja Sawai Pratap Singh constructed it in 1799 as an extension of the women's quarters of the City Palace, to enable the royal women to look out over the main street below without being observed. Wind used to flow through the shutters, giving the palace its name. However, most are now sealed closed to help preserve them. It's possible to go inside the Hawa Mahal from the entrance around the back. Government composite tickets, costing 300 rupees for Indians and 1,000 rupees for foreigners, are available from Rajasthan's Department of Archaeology & Museums. These tickets are valid for two days and also include Amber Fort, Nahargarh Fort, Jantar Mantar observatory, and Albert Hall Museum. Otherwise, the entry fee is 50 rupees for Indians and 200 rupees for foreigners. The Hawa Mahal is open daily from 9 a.m. until 4:30 p.m.

Learn About Astronomy
Jantar Mantar's intriguing structures are actually a collection of astrological instruments. Each has a specialized astronomical function such as measuring time, predicting eclipses, and tracking stars. The most impressive one is the huge Samrat Yantra sundial. At a height of 90 feet (27 meters), its shadow moves roughly the width of a person's hand every minute. It's a profound display of how quickly time does in fact go! Jantar Mantar (literally meaning "calculation instrument") is a UNESCO World Heritage Site and one of five such astronomical observatories built by Maharaja Sawai Jai Singh II, a renowned mathematician and astronomer. It was completed in 1738 and is located next to the City Palace in the Old City. The entrance fee, for those who don't have a government composite ticket, is 50 rupees for Indians and 200 rupees for foreigners.

Explore Amber Fort and Palace
Like something out of a fairy tale, Amber Fort sits atop a hill overlooking Maota Lake about 30 minutes north of the city center. Maharaja Man Singh I, who led Mughal Emperor Akbar's army, commenced constructing the fort in 1592. It was the home of Kachwaha Rajput rulers until Maharaja Sawai Jai Singh II relocated their capital to Jaipur city in 1727. Inside is a series of lavish palaces, halls, gardens, and temples. Elaborate mirror work adds to the grandeur. Amber Fort is open daily from 8 a.m. until 5.30 p.m. Many people choose to remain there for the evening sound and light show that brings to life the fort's history, night viewing, and dinner at opulent restaurant 1135 AD (which was once the king's private dining room). The fort reopens, evocatively illuminated, from 6:30 p.m. to 9:15 p.m. The entry fee during the day for those who don't have a government composite ticket is 100 rupees for Indians and 500 rupees for foreigners.

Go on a Heritage Water Walk
There are two little-known but important stepwells with amazing architecture around Jaipur (one at Nahargarh and the other near Amber Fort). You can learn about their functionality and the sacredness of water in Rajasthani culture on the informative walking tours conducted by Heritage Water Walks. The explanation of the ancient water catchment systems used to supply water to the forts is fascinating. The tours run for two hours. The cost is 1,000-1,100 rupees per person for Indians and 1,300-1,500 rupees for foreigners. Timings are flexible.

# Jaipur food

Jaipur- The famous pink city is popular for its forts, palaces, rich heritage, culture and traditions. But apart from all these famous attractions, one thing that talks a lot about the city is the distinct and distinct tastes of street food items and options.

When in Jaipur you will never run out of food options that you can try. You will fall in love with the mouth-watering and unique taste of Rajasthani food. Here are 25 of the most famous street food options in Jaipur which should not be missed for an unmatched taste.

1. Gol Gappa
2. Pyaaz Kachori
3. Kathi Roll
4. Omelet
5. Mutton Tikka
6. Lassi
7. Soda Lime Water
8. Chaats
9. Fusion Food
10. Crispy Pakoda
11. Jalebi
12. Pav Bhaji
13. Shrikhand
14. Kulfi Faluda
15. Rabri Ghevar
16. Paan
17. Ice Cream
18. Paneer Tikka
19. Tandoori Food
20. Dosa
21. Momos
22. Falahaar
23. Burgers
24. Cold coffee and Patties
25. South Indian Food

A visit to Jaipur is incomplete without digging out lavish delicacies like dal baati churma, imarti and ghevar and of course the famous chaat. Jaipuri cuisine is the symbol of beauty, dignity and prosperity of Rajasthan. Some dishes you may not remember in Jaipur include Dal Bati Churma, Missi Roti, Bajre Roti, Mirchi Bada, Gatta Sabzi and Kadhi. The sweets here are very popular and it is almost essential that you taste these taste buds to experience these unique dishes. These include Ghevar, Imarti, Halwa, Choirma, Gajak, Moong Thal and more.

Although there are many options for good food in Jaipur, one should not have street food available. The Johri Bazaar lan will be perfect and best for local street food, which embellishes the cuisine here with its old charm.


#Best Time to Visit Jaipur

Travelers from India and abroad visit Jaipur throughout the year for tourism. It is world famous for its forts, temples, lakes, fairs and festivals. The climate of Jaipur is dry as it is a semi-desert region. Winter is the best time and season to visit Jaipur city of Rajasthan.

1. Winter:
The winters are from October to March and are the best time to enjoy a holiday in Jaipur city. The days are very pleasant but the nights are less than 4 ° C and wear heavy woolen clothes while traveling. You can enjoy sightseeing at the historical forts with the Elephant Festival in March, the Kite Festival during Makar Sankranti and the Jaipur Literature Festival in January.

2. Summer:
Summer is from April to June and is very hot and dry. The average temperature during this time is 44 ° C - 45 ° C. Warm winds move throughout the day, making sightseeing ahead of the impossible. The festival of Gangaur is celebrated during this period. If you are planning a trip to this city at this time, drink plenty of water and juice, wear light cotton clothes and have good sun glasses.

3. Monsoon:
The monsoon occurs from July to September but Jaipur receives moderate to moderate rainfall. If you are in the city in the month of August then you can join the local festival of Teej.

# How to reach Jaipur

Jaipur is known as the 'Pink City' and is one of the famous attractions for tourists in India and abroad. It is the capital of the historic state of Rajasthan and is well connected with almost all major cities of India by all three modes of communication i.e. air, rail and road.

1. How to reach Jaipur by air:
Sanganer Airport is 10 km from the main city and has both domestic and international terminus which are 7 km and 10 km respectively. All major airlines like Air India, IndiGo, SpiceJet connect Jaipur with other major cities of India.

2. How to reach Jaipur by train:
Indian Railways offers several express trains from Jaipur to reach other parts of India. Trains like Shatabdi Express connect Jaipur to almost all major cities of India. An additional attraction is "The Palace on Wheels" which gives Jaipur a royal ride. A train journey through the desert is a thrilling experience in itself.

3. How to reach Jaipur by road:
The Rajasthan State Road Transport Corporation (RSRTC) operates luxury and deluxe buses between Jaipur and other cities within the state of Rajasthan. Regular service is available at regular fares from cities like New Delhi, Kota, Mumbai, Ahmedabad, Udaipur, Vadodara, and Ajmer.

# Local Transport in Jaipur:
Autos are the most viable method of transport except when it is very hot. Cabs are also very easily available. City Bus, a new addition for tourists, is a hop-on-hop-off service that is quite efficient. Although a normal bus service is also available, we would not recommend it for tourists. Apart from this, Jaipur Metro is going to start soon, which will make transport extremely efficient.

#Hotels in Jaipur

1.The Fern - An Ecotel Hotel
2.Ramada Jaipur
3.Radisson Jaipur City Center
4.Radisson Blu Jaipur
5.The Vijayran Palace by Royal Quest Resorts
6.The Lalit
7.Shakun Hotels and Resorts
8.Hotel Royal Orchid Jaipur
9.Hotel Mansingh
10.Sarovar Premiere Jaipur



Barkha Negi Nagee 



























#जयपुर
#जयपुर के त्यौहार
#जयपुर में घूमने की जगहें
#जयपुर का खाना
#जयपुर आने का बेस्ट टाइम
#जयपुर कैसे पहुंचे
#जयपुर में स्थानीय परिवहन
#जयपुर में होटल

जयपुर पुराने और नए का जीवंत संगम है। गुलाबी शहर भी कहा जाता है, राजस्थान के शाही राज्य की राजधानी, जयपुर पर कई शताब्दियों तक राजपूत राज्यों द्वारा शासन किया गया और 17 वीं शताब्दी ईस्वी में एक नियोजित शहर के रूप में विकसित किया गया। दिल्ली और आगरा के साथ, जयपुर स्वर्ण त्रिभुज बनाता है, जो देश के सबसे प्रसिद्ध पर्यटक सर्किटों में से एक है।

पुराने शहर को दीवारों और द्वारों से घिरे होने के कारण, सुंदर गुलाबी रंग की जयपुर की पृष्ठभूमि पर चित्रों से सजाया गया है, गुलाबी शहर सफलतापूर्वक अपने पुराने-विश्व आकर्षण को बनाए रखने में सफल होता है। आमेर फोर्ट और जंतर मंतर, जयपुर सहित कुछ यूनेस्को विश्व धरोहर स्थलों का घर, कई शानदार किलों, महलों, मंदिरों और संग्रहालयों का घर है।
जयपुर हलचल भरे स्थानीय बाज़ारों से भरा है जहाँ आप अपने दिल की सामग्री के लिए स्थानीय हस्तशिल्प और ट्रिंकेट की खरीदारी कर सकते हैं। शहर के लोकप्रिय बाज़ारों में बापू बाज़ार, त्रिपोलिया बाज़ार और जोहरी बाज़ार शामिल हैं। जयपुर अपने स्थानीय भोजन के लिए भी बहुत जाना जाता है और सबसे प्रसिद्ध व्यंजनों में घेवर, प्याज़ कचौरी और दाल बाटी चूरमा शामिल हैं।

भारत के सबसे बड़े शहरों में से एक, जयपुर दुनिया के कुछ सबसे विदेशी होटलों और रिसॉर्ट्स के साथ सभी आधुनिक सुविधाओं का घर भी है। शहर एक अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे का दावा करता है और यह रेल और सड़क मार्ग से बहुत अच्छी तरह से जुड़ा हुआ है। मेट्रो, स्थानीय बसें, साझा टुक-टुक, ऑटो-रिक्शा और उबेर और ओला सहित टैक्सी एग्रीगेटर ऐप शहर में आवागमन की समस्याओं को काफी आराम से हल करते हैं। यह देखने में काफी दिलचस्प है कि अत्यधिक शहरीकृत पॉकेट्स और शॉपिंग क्षेत्र लापरवाही से किलों और महलों के बगल में उग आए हैं।

राजसी इमारतें, वीरता की लड़ाइयों के किस्से, शानदार किले और महल, और बहुआयामी चरित्र, जयपुर लंबे समय से भारतीय उपमहाद्वीप के इतिहास में सबसे शानदार सांस्कृतिक गहनों में से एक रहा है। अपने आतिथ्य के लिए जाने जाने वाले दोस्ताना लोगों के साथ, जयपुर यात्रियों के लिए कई विकल्पों की पेशकश करता है।

जयपुर में नाइटलाइफ़ बेहद अच्छी है। जयपुर अपनी विरासत संस्कृति और विभिन्न प्रकार के थीम रेस्तरां, कैफे और पब के लिए प्रसिद्ध है।

# जयपुर के त्यौहार

पिंक सिटी कहा जाता है, हर साल लाखों पर्यटकों को आकर्षित करने का एक कारण जयपुर की जीवंत विरासत संस्कृति है। जयपुर अपने जीवंत लोगों के लिए प्रसिद्ध है जो कई मेलों और त्यौहारों को मनाकर शहर को जीवंत बनाते हैं। राजस्थान में विभिन्न प्रकार के लोक मनोरंजन, रीति-रिवाज और वेश-भूषा हैं, जो विभिन्न क्षेत्रों में भिन्न-भिन्न हैं, जो विविधता में एकता की अधिकतम सीमा को सच करते हैं। राजस्थान की राजधानी जयपुर में त्योहारों के रूप में सदियों पुरानी परंपराओं को जीवित रखते हुए लोग बहुत खुशी के साथ खुशी मनाते हैं।

त्यौहार जयपुर में विभिन्न क्षेत्रों, धर्मों, जातियों, और पंथों से आने वाले लोगों के बीच संबंधों को बढ़ावा देने का सबसे अच्छा तरीका है। जयपुर में जीवंत उत्सव के साथ मनाए जाने वाले कुछ प्रसिद्ध त्यौहार हैं तीज, दिवाली, गणगौर, पतंग महोत्सव, हाथी महोत्सव, ऊंट महोत्सव, आदि दिलचस्प समारोहों, अनुष्ठानों और विस्मयकारी प्रदर्शनों से भरे जयपुर के दर्शनीय त्योहार सबसे अच्छे में से एक हैं। जयपुर में करने के लिए गतिविधियाँ राजस्थान राजसी किलों और महलों का घर है जो सांस्कृतिक समारोहों, व्यंजनों और कई मनोरंजक प्रदर्शनों के साथ सबसे शानदार त्योहारों की मेजबानी करते हैं।

जयपुर में त्यौहारों के उत्सव ने राज्य में पर्यटन को बढ़ावा दिया है क्योंकि अधिकांश लोग आनन्दित और आनंदित घटनाओं का आनंद लेने और अपनी चिंताओं को भूलने के लिए यहां आते हैं। इन मंगलकारी आयोजनों ने राजस्थान की परंपराओं और रीति-रिवाजों को विश्व मानचित्र पर प्रसिद्ध किया है। पिछले कुछ वर्षों में, इन त्योहारों ने पर्यटकों के लिए सबसे दिलचस्प और दिलचस्प बात बन गई भव्य समारोहों का रूप ले लिया है। जयपुर के शानदार त्यौहार और स्थान निश्चित रूप से आपकी बकेट सूची में होने चाहिए अगर यह अब तक नहीं है।

जयपुर के प्रसिद्ध त्योहार:

1. हाथी महोत्सव
2. तीज महोत्सव
3. पतंग महोत्सव
4. जयपुर साहित्य महोत्सव
5. गणगौर महोत्सव
6. जयपुर अंतर्राष्ट्रीय फिल्म महोत्सव
7. कजली तीज महोत्सव
8. जयपुर दशहरा महोत्सव
9. गधा उत्सव
10. सीतला माता मेला

# जयपुर में घूमने की जगहें

1. हवा महल: हवा महल जयपुर की सबसे प्रसिद्ध संरचना है, और इसलिए पर्यटक दिन भर यहां आते हैं। जबकि हवा महल रात में बंद रहता है, शाम को इसका अनुभव करना इसकी सुंदरता का आनंद लेने का एक शानदार तरीका है।


2. नाहरगढ़ किला: जयपुर में, यदि आप वास्तव में रात के दृश्य का आनंद लेना चाहते हैं, तो मैंने नाहरगढ़ किले के रात के दृश्य की जोरदार सिफारिश की, जो कि बहुत अच्छा और आंख को पकड़ने वाला है। आप नाहरगढ़ किले में आरटीडीसी द्वारा कैफे पाडो में भोजन का आनंद ले सकते हैं।

3. अंबर किला: जयपुर से 11 किमी की दूरी पर स्थित अंबर किला एक महान कलात्मक स्वाद के साथ बनाया गया एक किला है। मार्था झील में एक सुंदर प्रतिबिंब बनाने वाली पहाड़ी की चोटी पर फैला, इसे आमेर किले के नाम से जाना जाता है।

4. जंतर मंतर जयपुर: जयपुर में जंतर मंतर दुनिया में सबसे बड़ा पत्थर खगोलीय वेधशाला है। यह राजस्थान में जयपुर के सिटी पैलेस के बगल में स्थित है। 1727 और 1733 के बीच की अवधि के दौरान निर्मित, जंतर मंतर अब भी चल रहा है

स्थिति और यह पूर्व युग के ज्ञान के बारे में एक गवाह के रूप में खड़ा है

5.छोकी ढाणी जयपुर: चोखी ढाणी राजस्थानी गाँव की संस्कृति का पर्याय बन गया एक लक्ज़री धरोहर है। यह टोंक रोड पर शहर के बाहरी इलाके में स्थित है। गाँव की अवधारणा आपको ग्रामीण राजस्थान की मूर्त अनुभूति देना है। यह प्राचीन कलाकृतियों, हस्तशिल्प, चित्रकारी, लोककथाओं और मूर्तियों के साथ पारंपरिक राजस्थान का एक वास्तविक चित्रण है। गाँव में असंख्य मनोरंजन के विकल्प हैं- लोक नृत्य, गायन, ऊँट की सवारी, कठपुतली शो, भाग्य-कथन, कलाबाज़ी, भविष्यवाणी करने वाले तोते, जादू के शो, घुड़सवारी, नौका विहार आदि।

6.अल्बर्ट हॉल संग्रहालय: अल्बर्ट हॉल संग्रहालय राजस्थान के सबसे पुराने संग्रहालयों में से एक है। इसमें विभिन्न प्रकार की वस्तुओं जैसे चित्रों, कालीनों, हाथी दांत, पत्थर, धातु की मूर्तियों, रंगीन क्रिस्टल कार्यों आदि का समृद्ध संग्रह है।

7. गलताजी मंदिर: जयपुर से लगभग 20 किमी दूर स्थित, यह मंदिर खूबसूरती से पेड़ों और पहाड़ियों के बीच स्थित है। जयपुर के गहनों में से एक, मंदिर परिसर में प्राकृतिक मीठे पानी के झरने और 7 पवित्र 'कुंड' या पानी की टंकियाँ हैं।

8. जयगढ़ किला: जयगढ़ किला एक भव्य संरचना है जो 'चील का टीला' पहाड़ियों के शीर्ष पर स्थित है, जिसे विद्याधर नामक एक प्रतिभाशाली वास्तुकार द्वारा डिज़ाइन किया गया है। यह किला शहर के समृद्ध अतीत को दर्शाता है और इसे उस शासक के नाम पर रखा गया है जिसने इसे बनवाया, सवाई जय सिंह द्वितीय।

9. जल महल: जल महल मान सागर झील के ऊपर बहुत ही शानदार तमाशा बना रहा है। झील के किनारे-किनारे चलने के लिए क्योंकि रात के समय महल के अंदर टिमटिमाती रोशनी झिलमिलाते पानी पर परिलक्षित होती है, यह एक रोमांटिक अनुभव है।

10. बिड़ला मंदिर: राजस्थान में मोती डूंगरी पहाड़ी के आधार पर एक ऊंचे मैदान पर स्थित, मंदिर को लक्ष्मी नारायण मंदिर के रूप में भी जाना जाता है क्योंकि मंदिर भगवान विष्णु (नारायण), संरक्षक और उनकी पत्नी लक्ष्मी को समर्पित है, धन की देवी।

11. मोती डूंगरी मंदिर: मोती डूंगरी मंदिर प्रसिद्ध बिरला मंदिर के ऊपर एक पहाड़ी पर बना है। यह मुख्य रूप से एक गणेश मंदिर है और शहर की सुरक्षा के लिए बनाया गया था। मंदिर सुंदर मोती डूंगरी महल से घिरा हुआ है, जो एक स्कॉटिश महल की नकल है।

# जयपुर में घूमने की और जगहें

 आभानेरी स्टेपवेल, पन्ना मीना का कुंड, राम निवास गार्डन, गोविंद जी मंदिर, वर्ल्ड ट्रेड पार्क जयपुर, राज मंदिर सिनेमा, हाथ प्रिंटिंग का अनोखा संग्रहालय, चांद बाउरी, मसाला चौक, अक्षरधाम मंदिर, जयपुर, चांदपोल, जोहरी बाजार, आम्रपाली संग्रहालय, सेंट्रल पार्क जयपुर, रामबाग पैलेस, कनक वृंदावन गार्डन, सरगासूली टॉवर
, खोले के हनुमान जी मंदिर, दिगंबर जैन मंदिर संघजी, सिसोदिया रानी गार्डन, गढ़ गणेश मंदिर, एलीफेंटास्टिक, जवाहर सर्कल, करौली, भंडारेज, समोदे पैलेस, हरि महल पैलेस, राजमहल पैलेस, नारायण निवास पैलेस, शाहपुरा हवेली, सनशाइन रिज़ॉर्ट और पानी पार्क, अप्पू घर, जयपुर, सनराइज नेचुरोपैथी हेल्थ रिजॉर्ट, सनराइज ड्रीम वर्ल्ड
, वंडरलैंड मनोरंजन पार्क, एंजेल रिज़ॉर्ट और मनोरंजन पार्क

# जयपुर का खाना

जयपुर- प्रसिद्ध गुलाबी शहर अपने किलों, महलों, समृद्ध विरासत, संस्कृति और परंपराओं के लिए लोकप्रिय है। लेकिन इन सभी प्रसिद्ध आकर्षणों के अलावा, एक चीज जो शहर के बारे में बहुत बात करती है, वह है स्ट्रीट फूड आइटम्स और विकल्पों के अलग-अलग और विशिष्ट स्वाद।

जब जयपुर में आप भोजन के उन विकल्पों में से कभी बाहर नहीं होंगे जिन्हें आप आज़मा सकते हैं। राजस्थानी खाने का माउथ-वॉटरिंग और अनोखा स्वाद आपको उनके प्यार में पड़ जाएगा। यहां जयपुर में स्ट्रीट फूड के सबसे प्रसिद्ध 25 विकल्प हैं जो एक बेजोड़ स्वाद के लिए याद नहीं करना चाहिए।

1. गोल गप्पा
2. पियाज कचौरी
3. काठी रोल
4. आमलेट
5. मटन टिक्का
6. लस्सी
7. सोडा लाइम वॉटर
8. चाट
9. फ्यूजन फूड
10. खस्ता पकोड़ा
11. जलेबी
12. पाव भाजी
13. श्रीखंड
14. कुल्फी फालूदा
15. राबड़ी घेवर
16. पान
17. आइसक्रीम
18. पनीर टिक्का
19. तंदूरी खाना
20. डोसा
21. मोमोज
22. फलाहार
23. बर्गर
24. कोल्ड कॉफी और पैटीज़
25. दक्षिण भारतीय भोजन

दाल बाटी चूरमा, इमरती और घेवर जैसी मिठाइयों और निश्चित रूप से प्रसिद्ध चाट जैसे भव्य व्यंजनों को खोदे बिना जयपुर की यात्रा अधूरी है। जयपुरी व्यंजन ही राजस्थान की सुंदरता, गरिमा और समृद्धि का प्रतीक है। कुछ व्यंजन जिन्हें आप जयपुर में याद नहीं कर सकते हैं उनमें दाल बाटी चूरमा, मिस्सी रोटी, बाजरे की रोटी, मिर्ची बड़ा, गट्टे की सब्जी और कढ़ी शामिल हैं। यहां की मिठाइयां बहुत लोकप्रिय हैं और यह लगभग अनिवार्य है कि आप अपने स्वाद की कलियों को इन अद्वितीय व्यंजनों का अनुभव करें। इनमें घेवर, इमरती, हलवा, चोइर्मा, गजक, मूंग थाल और बहुत कुछ शामिल हैं।

हालांकि जयपुर में बढ़िया भोजन के लिए कई विकल्प हैं, लेकिन किसी को स्ट्रीट फूड उपलब्ध नहीं होना चाहिए। जोहरी बाज़ार का लान उत्तम और स्थानीय स्ट्रीट फूड के लिए सबसे अच्छा होगा जो यहाँ के पुराने आकर्षण के साथ यहाँ के व्यंजनों को अलंकृत करता है।


# बेस्ट टाइम टू विजिट जयपुर

भारत और विदेश के यात्री, पर्यटन के लिए साल भर जयपुर में आते हैं। यह अपने किलों, मंदिरों, झीलों, मेलों और त्योहारों के लिए विश्व प्रसिद्ध है। जयपुर की जलवायु शुष्क है क्योंकि यह एक अर्ध-रेगिस्तानी क्षेत्र है। राजस्थान के जयपुर शहर में जाने के लिए सर्दियों का सबसे अच्छा समय और मौसम है।

1. सर्दी:
सर्दियां अक्टूबर से मार्च तक होती हैं और जयपुर शहर में छुट्टियों का आनंद लेने का सबसे अच्छा समय है। दिन बहुत सुखद होते हैं लेकिन रातें 4 ° C से कम ठंडी होती हैं और यात्रा करते समय भारी ऊनी कपड़े पहनें। आप मार्च में हाथी महोत्सव, मकर संक्रांति के दौरान पतंग महोत्सव और जनवरी में जयपुर साहित्य उत्सव के साथ ऐतिहासिक किलों पर दर्शनीय स्थलों का आनंद ले सकते हैं।

2. गर्मी:
ग्रीष्मकाल अप्रैल से जून तक होता है और बहुत गर्म और शुष्क होता है। इस समय के दौरान औसत तापमान 44 ° C - 45 ° C है गर्म हवाएँ दिन भर चलती हैं जिससे असंभव के आगे दर्शनीय स्थल बन जाते हैं। गणगौर का त्योहार इस दौरान मनाया जाता है। यदि आप इस समय इस शहर की यात्रा की योजना बना रहे हैं, तो बहुत सारे पानी और जूस पिएं, हल्के सूती कपड़े पहनें और अच्छे धूप के चश्मे लें।

3. मानसून:
मानसून जुलाई से सितंबर तक होता है लेकिन जयपुर में मध्यम से कम वर्षा होती है। यदि आप अगस्त के महीने में शहर में हैं तो आप तीज के स्थानीय त्योहार में शामिल हो सकते हैं।

# कैसे पहुंचे जयपुर

जयपुर को 'पिंक सिटी' के नाम से जाना जाता है और यह भारत और विदेशों में पर्यटकों के लिए प्रसिद्ध आकर्षणों में से एक है। यह राजस्थान के ऐतिहासिक राज्य की राजधानी है और भारत के लगभग सभी प्रमुख शहरों के साथ संचार के सभी तीन तरीकों यानी वायु, रेल और सड़क से अच्छी तरह से जुड़ा हुआ है।

1. हवाई मार्ग से जयपुर कैसे पहुंचे:
सांगानेर हवाई अड्डा मुख्य शहर से 10 किमी दूर है और इसमें घरेलू और अंतर्राष्ट्रीय दोनों टर्मिनस हैं जो क्रमशः 7 किमी और 10 किलोमीटर दूर हैं। एयर इंडिया, इंडिगो, स्पाइसजेट जैसी सभी प्रमुख एयरलाइंस भारत के अन्य प्रमुख शहरों के साथ जयपुर को जोड़ती हैं।

2. ट्रेन से जयपुर कैसे पहुंचे:
भारतीय रेलवे जयपुर से भारत के अन्य हिस्सों में पहुंचने के लिए कई एक्सप्रेस ट्रेनें प्रदान करती है। शताब्दी एक्सप्रेस जैसी ट्रेनें जयपुर को भारत के लगभग सभी प्रमुख शहरों से जोड़ती हैं। एक अतिरिक्त आकर्षण "द पैलेस ऑन व्हील्स" है जो जयपुर को शाही सवारी प्रदान करता है। रेगिस्तान के माध्यम से एक ट्रेन यात्रा अपने आप में एक रोमांचकारी अनुभव है।

3. सड़क मार्ग से जयपुर कैसे पहुंचे:
राजस्थान राज्य सड़क परिवहन निगम (RSRTC) राजस्थान राज्य के भीतर जयपुर और अन्य शहरों के बीच लक्जरी और डीलक्स बसें चलाता है। नई दिल्ली, कोटा, मुंबई, अहमदाबाद, उदयपुर, वड़ोदरा, और अजमेर जैसे शहरों से नियमित किराए पर नियमित सेवा उपलब्ध है।

# जयपुर में स्थानीय परिवहन:
ऑटोस परिवहन का सबसे व्यवहार्य तरीका है सिवाय इसके कि यह बहुत गर्म हो। कैब भी बहुत आसानी से उपलब्ध हैं। सिटी बस, पर्यटकों के लिए एक नया अतिरिक्त एक हॉप-ऑन-हॉप-ऑफ सेवा है जो काफी कुशल है। हालांकि एक सामान्य बस सेवा भी उपलब्ध है, हम इसे पर्यटकों के लिए नहीं सुझाएंगे। इसके अलावा, जयपुर मेट्रो जल्द ही शुरू होने वाली है, जो परिवहन को बेहद कुशल बनाएगी।

#Hotels जयपुर में

1. द फर्न - एक इकोटेल होटल
2.रामदा जयपुर
3. रेडिसन जयपुर सिटी सेंटर
4. रेडिसन ब्लू जयपुर
5. रॉयल क्वेस्ट रिसॉर्ट्स द्वारा विजयन पैलेस
6. ललित
7. शकुन होटल और रिसॉर्ट्स
8. होटल रॉयल ऑर्किड जयपुर
9. होटल मानसिंह
10. सरोवर प्रीमियर जयपुर



#jaipur, #jaipurcity, #jaipurcityblog, #jaipurcitypalace, #jaipurcitybloggs, #jaipurcityguide, #jaipurfood, #jaipurtravel, #jaipurtrip, #jaipurtravels, #jaipurtravelblogger, #jaipurvisit, #jaipurplaces, #jaipurplacestovisit, #jaipurtour, #jaipurtourismplaces, #pinkcity, #pinkcityjaipur, #pinkcityindia, #pinkcitytreasures,

Comments

Popular posts from this blog

Application for Internship with AlfaTravelBlog

All In One Travel Booking Apps

DBA Apply for Best A1 Cabs Franchise in India