Udaipur ‘Venice of the East’ and 'City of Lakes

#Udaipur
#Festivals of Udaipur
#Places to Visit in Udaipur  
#Food of Udaipur
#Best time to visit Udaipur
#How to Reach Udaipur
#Accommodation in Udaipur
#Hotels in Udaipur
Udaipur is called ‘Venice of the East’ and 'City of Lakes' . Udaipur, a city in Rajasthan is a stunning place and has a rich cultural background and a great history. The palaces reflect the architectural grandeur prevalent during the period of the Rajputs and the natural landscape is a description of how nature can be generous where it chooses to be. The city was once the capital of the Sisodia Rajputs of Mewar and is quite famous for its beautiful palaces. Udaipur was founded in 1553 by Sisodia Rajput ruler Maharana Udai Singh II. At that time there were many beautiful palaces, most of which have been converted into hotels. The city is well planned and attracts a large number of tourists from India and abroad every year. Tourist places in Udaipur include City Palace, Lake Pichola, Lake Palace, Lake Garden Palace, Royal Vintage Car Museum, Bagore ki Haveli, Saheliyon ka Bari, Jagdish Temple, Shilpgram and Moti Magri.

#Udaipur Festivals

The most interesting part of India is its colorful festivals. A heritage-filled site like Udaipur will be the prime beauty during the festive season. Colorful activities and unique rituals are a blessing to both eyes and hearts. If you are a photo enthusiast, then you should come to Udaipur during festivals. In addition, there will be many fairs and performances during festivals that make souvenir shopping easier.
The festival is the best time to enjoy traditional music, dance, folk activities, religious ceremonies, puppet shows such as cultural events and special dishes. Here are the top colorful fairs and festivals to enjoy in Udaipur.
Here are some festivals of Udaipur:

1. Mewar festival

When: March/April according to the lunar calendar
What: Processions, rituals, cultural events, photography, dance, and folk songs

2. Shilpgram Art Fair

When: November or December based on the lunar calendar
What: Handicraft exhibition and fair, shopping, music, and dance festival and others.

3.Diwali

When: October or November based on the lunar calendar
What: crackers, fireworks, night sky gazing, rituals and tasting delicacies.

4. Teej festival

When: July or August according to the lunar calendar
What: swings, rituals, and others

5. Dussehra

When: October
What: Stage performance, puppet shows, dance performance, rituals, and others

6. Hariyali Amavasya

When: July or August as per lunar calendar
What: rituals, fairs, and others.

#Places to visit in Udaipur

1. City Palace

The City Palace is a massive architecture built on top of a hill. Make sure you have enough time to cover the entire palace. Consider being 2 hours approx. It provides panoramic views of Udaipur city, and the lake Pichola, lake palace, monsoon palace, and some other historical monuments around it.

2. Pichola Lake

Pichola Lake, one of the oldest and largest lakes of Udaipur, is covered with high palaces, temples, bathing ghats and high hills around it.

3. Bagore Ki Haveli:

The place is only 1.9 miles from City Palace and will be barely a 3 to 4 minute drive. We first thought of leaving this place, but it became a good place to spend some time.
Instead of going inside the museum we decided to spend time on the coast outside. The museum is right on the banks of Lake Pichola and gives a wonderful view of the Lake Palace. Udaipur will never fail to mesmerize you with its picture-certain locations.

4. Ambarai Ghat: Another gem of Udaipur is Ambarai Ghat. It is located near the banks of Lake Pichola. It is popular for its picturesque view of Ambari Restaurant and Lake Palace. It is also a beautiful place for a couple photoshoot. You can catch some of the best street arts here.

5. Sajjangarh Palace

Also known as the Monsoon Palace, Sajjangarh Palace is situated on a famous Bandra mountain, which is situated at an elevation of about 944 meters above sea level with a view of the famous Pichola Lake.


6. Eklingji Temple

About 22 km from Udaipur, Eklingji temple is dedicated to Lord Shiva. A taxi is the most convenient way to reach this temple. It is one of the most famous temples of Rajasthan, which is also known for its remarkable architecture.

7. Jagdish Temple


Dedicated to Lord Vishnu, the protector of the universe, the Jagdish Temple is located in the City Palace complex in the city of Udaipur. Beautiful carvings, many attractive sculptures and an atmosphere of serenity make this place of worship an ideal choice for those seeking solitude and faith.


8. Doodh Talai Musical Garden

Dudh Talai Musical Garden is a rock and fountain garden, a great place to enjoy the sunset and one can see a wide expanse of the city. In addition, there is an area tramway (cable car), which connects a garden of Dudh Talai and the Karni Mata temple.

9. Jaisamand Lake

Jaisamand Lake is the second largest artificial lake in Asia. The lake consists of seven islands, one of which is still inhabited by a local tribe, it also has a temple dedicated to Lord Shiva on the dam.

10. Gulab Bagh & Zoo

For a full and prosperous journey, you should visit Gulab Bagh and Zoo, which is not only a garden, but a paradise for those who want to experience more in less time.

Some More Places in Udaipur to Visit

Saheliyon Ki Bari, Jag Mandir Palace, Bada Mahal, Maharana Pratap Smarak, Shilp Gram, Nehru Garden, Udaipur, Haldighaati, Sukhadia Circle, Bharatiya Lok Kala Museum, Mansapurna Karni Ropeway, Ambrai Ghat,Hathi Pol Bazar
, Bada Bazar Udaipur, Chetak Circle, Crystal gallery, Neemach Mata Temple, Taj Lake Palace, Marvel Water Park
, Jeel Water Park, Fateh Sagar Lake, Vintage Car Museum, Udaipur.


#Udaipur food

Every Indian has a weak spot for that savory street food served in many streets and lanes of small and big cities of the country. Udaipur is a city known for its delightful varieties of street-street but with the spices that tempt the minds of Rajasthan, who make the best street food in Udaipur. From Dal Baati, Mirchi Buds to common items like Kachoris and Dabelis.

1.Boiled Egg Bhurji
2.Mini Mirchi Bada
3.Kachoris
4.Bread Pakora
5.Daal Baati Choorma
6.Dabeli
7.Paani Puri
8.Pav Bhaji
9.Sandwiches And Maggi
10.Kulhad Coffee & Hari Mirch Chai Shot


# Best time to visit Udaipur

1. Winter in Udaipur

Winters remain in Udaipur in December and till February. The climate is pleasantly cold and temperatures range from 5 ° C to 30 ° C.

2. Monsoon season in Udaipur
July marks the beginning of the monsoon season in Udaipur and lasts till September. The sporadic rain makes Udaipur very beautiful in this season.

3. Summer in Udaipur
Summers in Udaipur are extremely hot and tiring. Temperatures range between 23 ° C to 44 ° C in the months of March to June. A trip to Udaipur during these months is usually avoided.

4. Best season in Udaipur

The best time to visit Udaipur is during the winter season. The temperature remains comfortable and is suitable for monuments and other sightseeing in Udaipur. The best months to travel are September, October, November, December, February, and March.

# How to reach Udaipur

Maharana Pratap Airport is about 24 km from the main city. The city is connected by air with all major cities of India (3 - 4 daily flights from Delhi and Mumbai). There are several trains which also stop at Udaipur railway station. You can reach Udaipur by road (by bus, taxi or car).

1. How to reach Udaipur by flight

Maharana Pratap Airport, also known as Dabok Airport, is located at a distance of 24 km from Udaipur. Flights from here are scheduled every day in cities such as Delhi, Mumbai and Jaipur, making travel quite convenient.

2. How to reach Udaipur by road

The city is located on the Golden Quadrilateral, East-West Corridor and NH 76, at the crossroads of NH 8, between Delhi and Mumbai. Road travelers can either go to the city via NH8 from Ahmedabad, which takes around 5 hours or a 6-hour journey from Jaipur via the Golden Quadrilateral. It is a 4-hour drive from Kota via the EW Corridor.

3. How to reach Udaipur by train

Udaipur has two railway stations - Udaipur City Railway Station and Rana Pratap Nagar Railway Station, both are well-networked to most cities in India such as Kolkata, Bangalore, New Delhi, Mumbai, Jaipur, Ajmer, Kota, Agra, etc. The stations are located at a distance of 3 km from the city center.

# Local Transport in Udaipur

It is a good idea to hire a taxi for a day. Traveling through three-wheelers is an easy option and also relatively inexpensive.

# Accommodation in Udaipur

Udaipur has a lot of deluxe and mediums for budget accommodation options. Famous deluxe hotels of Trident (Mulla Talai), Kurabar Kothi (near Ayurvedic College), Cambay Spa & Resort (Bahamas Industrial Area), Sheraton Udaipur Palace Resort & Spa (near Fateh Sagar Lake) and Hilltop Hotel Palace (Ambagarh) Hotel Are cities.
Some of the mediums of budget accommodation include Padmini Palace (Gulab Bagh Road), Dayal Hotel (Kothari Bhavan), Kajari Hotel (Shastri Circle), Mewar Haveli (Udaipur) and Dev Villa (Haridas ji Magri), etc.




#Hotels in Udaipur

1.Taj Lake Palace
2.The Oberoi Udaivilas Udaipur
3.The Leela Palace Udaipur
4.Chunda Palace
5.The Lalit Laxmi Vilas Palace
6.Shiv Niwas Palace - Grand Heritage
7.Fateh Prakash Palace - Grand Heritage
8.Radisson Blu Udaipur Palace Resort & Spa
9.Hotel Lakend
10.Taj Aravali Resort & Spa








Barkha Negi Nagee 
Co-FounderAlfa Tours And Travels 
G3-Nagee Palace, Sai Baba Nagar, Navghar Road,
Bhayandar [East], Thane 401105 India
+91 77188 09030
Barkha@alfatravelblog.com
www.AlfaTravelBlog.com



# उदयपुर
# उदयपुर के त्यौहार
# उदयपुर में घूमने की जगहें
# उदयपुर का खाना
# उदयपुर घूमने का सबसे अच्छा समय
# उदयपुर कैसे पहुंचे
# उदयपुर में आवास
# उदयपुर में होटल

उदयपुर को पूर्व का 'वेनिस' और 'झीलों का शहर' कहा जाता है। उदयपुर, राजस्थान का एक शहर एक आश्चर्यजनक स्थान है और एक समृद्ध सांस्कृतिक पृष्ठभूमि और एक महान इतिहास है। महल राजपूतों की अवधि के दौरान प्रचलित वास्तुशिल्प भव्यता को दर्शाते हैं और प्राकृतिक परिदृश्य इस बात का विवरण है कि प्रकृति जहां उदार हो सकती है, वह कैसे चुन सकती है। यह शहर कभी मेवाड़ के सिसोदिया राजपूतों की राजधानी था और अपने खूबसूरत महलों के कारण काफी प्रसिद्ध है। उदयपुर की स्थापना 1553 में सिसोदिया राजपूत शासक महाराणा उदय सिंह द्वितीय ने की थी। उस समय कई खूबसूरत महल थे, जिनमें से अधिकांश को होटल में बदल दिया गया है। यह शहर अच्छी तरह से योजनाबद्ध है और हर साल भारत और विदेशों से बड़ी संख्या में पर्यटकों को आकर्षित करता है। उदयपुर में पर्यटक स्थलों में सिटी पैलेस, लेक पिछोला, लेक पैलेस, लेक गार्डन पैलेस, रॉयल विंटेज कार संग्रहालय, बागोर की हवेली, सहेलियों की बरी, जगदीश मंदिर, शिल्पग्राम और मोती मगरी शामिल हैं।

# उदयपुर के त्यौहार

भारत का सबसे दिलचस्प हिस्सा इसके रंगीन त्योहार हैं। त्यौहारी सीज़न के दौरान उदयपुर जैसी विरासत से भरी साइट प्रमुख सुंदरता होगी। रंगीन गतिविधियाँ और अनोखी रस्में दोनों आँखों और दिल के लिए आशीर्वाद हैं। यदि आप एक फोटो उत्साही हैं, तो आपको त्योहारों के दौरान उदयपुर आना चाहिए। इसके अलावा, स्मारिका खरीदारी को आसान बनाने वाले त्यौहारों के दौरान कई मेले और प्रदर्शन होंगे।
महोत्सव पारंपरिक संगीत, नृत्य, लोक गतिविधियों, धार्मिक अनुष्ठानों, कठपुतली शो जैसे सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आनंद लेने और विशेष व्यंजनों का आनंद लेने का सबसे अच्छा समय है। यहाँ उदयपुर में आनंद लेने के लिए शीर्ष रंगीन मेले और त्योहार हैं।
यहाँ उदयपुर के कुछ त्योहार हैं:

1. मेवाड़ उत्सव

कब: चंद्र कैलेंडर के अनुसार मार्च / अप्रैल
क्या: जुलूस, अनुष्ठान, सांस्कृतिक कार्यक्रम, फोटोग्राफी, नृत्य और लोक गीत

2. शिल्पग्राम कला मेला

कब: चंद्र कैलेंडर पर आधारित नवंबर या दिसंबर
क्या: हस्तशिल्प प्रदर्शनी और निष्पक्ष, खरीदारी, संगीत, और नृत्य उत्सव और अन्य।

3. दिवाली

कब: अक्टूबर या नवंबर एक चंद्र कैलेंडर पर आधारित है
क्या: पटाखे, आतिशबाजी, रात के आसमान में टकटकी लगाना, अनुष्ठान और चखना व्यंजनों।

4. तीज त्योहार

कब: चंद्र कैलेंडर के अनुसार जुलाई या अगस्त
क्या: झूले, अनुष्ठान, और अन्य

5. दशहरा

कब: अक्टूबर
क्या: स्टेज प्रदर्शन, कठपुतली शो, नृत्य प्रदर्शन, अनुष्ठान, और अन्य

6. हरियाली अमावस्या

कब: चंद्र कैलेंडर के अनुसार जुलाई या अगस्त
क्या: अनुष्ठान, मेले, और अन्य।

# उदयपुर में घूमने की जगहें

1. सिटी पैलेस

सिटी पैलेस एक विशाल वास्तुकला है जो एक पहाड़ी के ऊपर बनाया गया है। सुनिश्चित करें कि आपके पास पूरे महल को कवर करने के लिए पर्याप्त समय है। 2 घंटे लगभग होने पर विचार करें। यह उदयपुर शहर, और इसके आस-पास झील पिछोला, झील महल, मानसून महल, और कुछ अन्य ऐतिहासिक स्मारकों के मनोरम दृश्य प्रदान करता है।


2. पिछोला झील

उदयपुर की सबसे पुरानी और सबसे बड़ी झीलों में से एक, पिछोला झील, ऊंचे-ऊंचे महलों, मंदिरों, स्नान घाटों और इसके चारों ओर ऊंची पहाड़ियों से ढकी हुई है।

3. बागोर की हवेली:

यह स्थान सिटी पैलेस से केवल 1.9 मील की दूरी पर है और मुश्किल से 3 से 4 मिनट की ड्राइव करेगा। हमने पहले तो इस जगह को छोड़ देने के बारे में सोचा, लेकिन कुछ समय बिताने के लिए यह एक अच्छी जगह बन गई।
संग्रहालय के अंदर जाने के बजाय हमने बाहर तट पर समय बिताने का फैसला किया। संग्रहालय पिछोला झील के तट पर सही है और लेक पैलेस का एक अद्भुत दृश्य देता है। उदयपुर अपने चित्र-कुछ स्थानों के साथ आपको मंत्रमुग्ध करने में कभी असफल नहीं होगा।

4. अंबराई घाट: उदयपुर का एक और रत्न है अंबरी घाट। यह पिछोला झील के तट के पास स्थित है। यह अंबरी रेस्तरां और लेक पैलेस के सुरम्य दृश्य के लिए लोकप्रिय है। एक जोड़े के फोटोशूट के लिए भी यह एक खूबसूरत जगह है। आप यहां कुछ बेहतरीन स्ट्रीट आर्ट्स को पकड़ सकते हैं।

5. सज्जनगढ़ पैलेस

मानसून पैलेस के रूप में भी जाना जाता है, सज्जनगढ़ पैलेस एक चोटी पर स्थित है, जो बांसडाड़ा पर्वत से लगभग 944 मीटर की ऊँचाई पर स्थित है और प्रसिद्ध पिछोला झील की ओर देख रहा है।


6. एकलिंगजी मंदिर

उदयपुर से लगभग 22 किमी दूर एकलिंगजी मंदिर भगवान शिव को समर्पित है। इस मंदिर तक जाने के लिए एक टैक्सी लेना सबसे सुविधाजनक तरीका है। यह राजस्थान के सबसे प्रसिद्ध मंदिरों में से एक है, जो अपनी उल्लेखनीय वास्तुकला के लिए भी जाना जाता है।

7. जगदीश मंदिर

ब्रह्मांड के संरक्षक भगवान विष्णु को समर्पित, जगदीश मंदिर उदयपुर शहर में सिटी पैलेस परिसर में स्थित है। सुंदर नक्काशी, कई आकर्षक मूर्तियाँ और शांति का वातावरण इस पूजा स्थल को एकांत और विश्वास के चाहने वालों के लिए एक आदर्श विकल्प बनाता है।


8. दूधा तलाई म्यूजिकल गार्डन

दुध तलाई म्यूजिकल गार्डन एक रॉक और फाउंटेन गार्डन है, जो सूर्यास्त का आनंद लेने के लिए एक शानदार जगह है और शहर का विस्तृत विस्तार देख सकते हैं। इसके अलावा, एक एरिया ट्रामवे (केबल कार) है, जो दुध तलाई के एक बगीचे और करणी माता मंदिर को जोड़ता है।

9. जयसमंद झील

जयसमंद झील एशिया की दूसरी सबसे बड़ी कृत्रिम झील है। झील में सात द्वीप हैं, जिनमें से एक अभी भी एक स्थानीय जनजाति द्वारा बसा हुआ है, इसमें बांध पर भगवान शिव को समर्पित एक मंदिर भी है।

10. गुलाब बाग और चिड़ियाघर

एक पूर्ण और समृद्ध यात्रा के लिए, आपको गुलाब बाग और चिड़ियाघर की यात्रा करनी चाहिए, जो केवल एक उद्यान नहीं है, बल्कि उन लोगों के लिए एक स्वर्ग है जो कम समय में अधिक अनुभव करना चाहते हैं।

उदयपुर की कुछ और जगहें

सहेलियोन की बारी, जग मंदिर महल, बड़ा महल, महाराणा प्रताप स्मारक, शिल्प ग्राम, नेहरू गार्डन, उदयपुर, हल्दीघाटी, सुखाड़िया सर्कल, भारतीय लोक कला संग्रहालय, मंसपूर्णा करणी रोपवे, अंबरी घाट, हाथी पोल बाजार
, बड़ा बाजार उदयपुर, चेतक सर्कल, क्रिस्टल गैलरी, नीमच माता मंदिर, ताज लेक पैलेस, मार्वल वाटर पार्क
, जील वाटर पार्क, फतेह सागर झील, विंटेज कार संग्रहालय, उदयपुर।

# उदयपुर का खाना

देश के छोटे और बड़े शहरों के कई गलियों और गलियों में परोसे जाने वाले उस दिलकश स्ट्रीट फूड के लिए हर भारतीय के पास एक कमजोर जगह है। उदयपुर एक ऐसा शहर है, जो अपनी गली-गली की रमणीय किस्मों के लिए जाना जाता है, लेकिन राजस्थान के मन को लुभाने वाले मसालों के साथ, जो उदयपुर में सबसे अच्छा स्ट्रीट फूड बनाते हैं। दाल बाटी, मिर्ची बड्स से लेकर कचोरियों और दाबेलिस जैसी आम वस्तुओं तक।

1. उबला हुआ अंडा भुर्जी
2. मिनी मिर्ची बड़ा
3. कचौड़ी
4. ब्रेड पकोड़ा
5. दाल बाटी चोइरामा
6. दबेली
7. पौनी पुरी
8. पाव भाजी
9. सैंडविच और मैगी
10. कुल्हड़ कॉफी और हरी मिर्च चाटी

# उदयपुर घूमने का सबसे अच्छा समय


1. उदयपुर में सर्दी का मौसम

सर्दियां दिसंबर में उदयपुर और फरवरी तक रहती हैं। जलवायु सुखद रूप से ठंडी होती है और तापमान 5 ° C से 30 ° C तक होता है।

2. उदयपुर में मानसून का मौसम
जुलाई उदयपुर में मानसून के मौसम की शुरुआत का प्रतीक है और सितंबर तक रहता है। छिटपुट बारिश इस मौसम में उदयपुर को बहुत खूबसूरत बनाती है।

3. उदयपुर में ग्रीष्म ऋतु
उदयपुर के ग्रीष्मकाल बेहद गर्म और थकाऊ होते हैं। मार्च से जून के महीनों में तापमान 23 डिग्री सेल्सियस से 44 डिग्री सेल्सियस के बीच रहता है। इन महीनों के दौरान उदयपुर की यात्रा को आमतौर पर टाला जाता है।

4. उदयपुर में बेस्ट सीज़न

उदयपुर घूमने का सबसे अच्छा समय सर्दियों का मौसम है। तापमान सहज बना हुआ है और उदयपुर में स्मारकों और अन्य दर्शनीय स्थलों की यात्रा के लिए उपयुक्त है। यात्रा करने के लिए सबसे अच्छे महीने सितंबर, अक्टूबर, नवंबर, दिसंबर, फरवरी, और मार्च हैं।

# उदयपुर कैसे पहुंचे

महाराणा प्रताप हवाई अड्डा मुख्य शहर से लगभग 24 किमी दूर है। यह शहर भारत के सभी प्रमुख शहरों (दिल्ली और मुंबई से 3 - 4 दैनिक उड़ानें) के साथ हवाई मार्ग से जुड़ा हुआ है। कई ट्रेनें हैं जो उदयपुर रेलवे स्टेशन पर भी रुकती हैं। आप सड़क मार्ग से (बस, टैक्सी या कार से) उदयपुर पहुँच सकते हैं।

1. फ्लाइट से उदयपुर कैसे पहुंचे

महाराणा प्रताप हवाई अड्डा, जिसे डबोक हवाई अड्डा भी कहा जाता है, उदयपुर से 24 किमी की दूरी पर स्थित है। दिल्ली, मुंबई और जयपुर जैसे शहरों में हर दिन यहां से उड़ानें निर्धारित हैं, जो यात्रा को काफी सुविधाजनक बनाती हैं।

2. सड़क मार्ग से उदयपुर कैसे पहुँचे

यह शहर दिल्ली और मुंबई के बीच, NH 8 के चौराहे पर, स्वर्णिम चतुर्भुज, पूर्व-पश्चिम गलियारे और NH 76 पर स्थित है। सड़क यात्री या तो अहमदाबाद से NH8 के माध्यम से शहर में जा सकते हैं, जो लगभग 5 घंटे लगते हैं या जयपुर से स्वर्णिम चतुर्भुज के माध्यम से 6 घंटे की यात्रा। यह EW कॉरिडोर के माध्यम से कोटा से 4 घंटे की ड्राइव पर है।

3. ट्रेन से उदयपुर कैसे पहुँचे

उदयपुर में दो रेलवे स्टेशन हैं- उदयपुर सिटी रेलवे स्टेशन और राणा प्रताप नगर रेलवे स्टेशन, दोनों भारत के अधिकांश शहरों जैसे कोलकाता, बैंगलोर, नई दिल्ली, मुंबई, जयपुर, अजमेर, कोटा, आगरा, आदि के लिए अच्छी तरह से नेटवर्क हैं। स्टेशन शहर के केंद्र से 3 किमी की दूरी पर स्थित हैं।


# उदयपुर में स्थानीय परिवहन

एक दिन के लिए एक टैक्सी किराए पर लेना एक अच्छा विचार है। थ्री-व्हीलर्स के माध्यम से यात्रा करना एक आसान विकल्प है और अपेक्षाकृत सस्ता भी है।

# उदयपुर में आवास

बजट आवास विकल्पों के लिए उदयपुर में बहुत सारे डीलक्स और माध्यम हैं। ट्राइडेंट (मुल्ला तलाई), कुराबार कोठी (आयुर्वेदिक कॉलेज के पास), कैम्बे स्पा एंड रिजॉर्ट (बहामा औद्योगिक क्षेत्र), शेरेटन उदयपुर पैलेस रिज़ॉर्ट और स्पा (फतेह सागर झील के पास) और हिलटॉप होटल पैलेस (अंबगढ़) प्रसिद्ध डीलक्स होटल हैं शहर।
बजट आवास के कुछ माध्यमों में पद्मिनी पैलेस (गुलाब बाग रोड), दयाल होटल (कोठारी भवन), कजरी होटल (शास्त्री सर्कल), मेवाड़ हवेली (उदयपुर) और देव विला (हरिदास जी मगरी), आदि शामिल हैं।

# उदयपुर में होटल

1. ताज लेक पैलेस
2. ओबराय उदयविलास उदयपुर
3. लीला पैलेस उदयपुर
4.चुंडा पैलेस
5. ललित लक्ष्मी विलास पैलेस
6. शिव निवास पैलेस - भव्य धरोहर
7. फतेह प्रकाश पैलेस - भव्य धरोहर
8. रेडिसन ब्लू उदयपुर पैलेस रिज़ॉर्ट एंड स्पा
9. होटल लैकेंड
10. ताज अरावली रिज़ॉर्ट और स्पा

American Plan i.e. 
Stay with breakfast and one Major meal (Lunch or Dinner) ... 
CPAI / MAPAI / APAI – Food plan with taxes included written as All Inclusive ... 
EP / CP / MAP / AP plan are the food plan for the stay in hotel 



Barkha Negi Nagee 
































#udaipur, #udaipurblog, #udaipurdiaries, #udaipurtimes, #udaipurcity, #udaipurlakecity, #udaipurblogger, #udaipurtourism #udaipurmonsoon, #udaipurcitypalace, #udaipurtrip, #udaipurtravelblog, #udaipurhotels, #udaipurlifes, #udaipurvisit, #udaipurtravel, #cityoflakes, #udaipurcityblogz,

Comments

Popular posts from this blog

Application for Internship with AlfaTravelBlog

DBA Apply for Best A1 Cabs Franchise in India

All In One Travel Booking Apps